देश में न रहेगा टोल प्लाजा, न फास्ट टैग, जानिए फिर क्या होगा

नई दिल्ली। टोल प्लाजा में अब वाहन चालकों को घंटों लाइन में खड़े होने से राहत मिलने वाली है। ऐसा इसलिए क्योंकि भारत में बहुत जल्द टोल प्लाजा पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा। दरअसल भारत सरकार आने वाले दो सालों में टोल को पूरी तरह से जीपीएस सिस्टम से जोड़ने की तैयारी में है।

There will be no toll plaza, nor fast tag in the country, know what will happen then

New Delhi. In the toll plaza, drivers are now getting relief from standing in line for hours. This is because very soon the toll plaza in India will be completely abolished. In fact, the Government of India is preparing to connect the toll with GPS systems in the next two years.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि आने वाले दो सालों में भारत को टोल नाका मुक्त कर दिया जाएगा। भारत सरकार ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) को अंतिम रूप देने में लगी है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि आने वाले दो सालों में वाहनों का टोल सिर्फ आपके लिंक्ड बैंक खाते से ही काटा जाएगा। उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान बताया कि टोल के लिए जीपीएस प्रणाली पर काम जारी है, जिसमें टोल का भुगतान स्वचालित रूप से तय की गई दूरी पर काटा जाएगा।

टोल प्लाजा में जीपीएस सिस्टम लगाने के लिए भारत सरकार रूस से मदद ले रही है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि टोल प्लाजा में जीपीएस सिस्टम को लागू करने के लिए रूस सरकार से मदद ली जा रही है। उन्होंने बताया आने वाले समय में देशभर के टोल प्लाजा पूरी तरह से ळच्ै से जुड़ जाएंगे।

सरकार पूराने वाहनों को जीपीएस सिस्टम से जोड़ने की तैयारी में है। देश में सभी कॉमर्शियल वाहन ट्रैंकिग सिस्टम से लैस हैं।

टोल प्लाजा को जीपीएस टेक्नोलॉजी से जोड़ने से सरकार को करोड़ों की कमाई होगी। बताया जा रहा है कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की टोल आय पांच साल में करीब 1.34 ट्रिलियन तक बढ़ सकती है। नितिन गड़करी ने भी संभाना जतायी है कि अगले पांच सालों में टोल आय 1,34,000 करोड़ रुपये होगी।

नये साल से सभी वाहनों पर फास्ट टैग लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। फास्ट टैग आपके वॉलेट या बैंक अकाउंट से लिंक होगा। जब आप टोल प्लाजा पार करेंगे, तो जीपीएस टेक्नोलॉजी से स्वतरू आपके बैंक अकाउंट से पैसे कट जाएंगे। टोल प्लाजा में भुगतान के लिए रूकने की दरकार नहीं होगी।

Related posts

Leave a Comment