नगर निगम के दफ्तर पर लिखा जय श्री राम, तो पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

तिरुवनंतपुरम। केरल में भाजपा कार्यकर्ताओं को नगर पालिका के दफ्तर पर श्जय श्रीरामश् लिखा बैनर लगाना महंगा पड़ गया। पुलिस ने केरल के पलक्कड़ नगर पालिका दफ्तर पर भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से लगाए गए श्जय श्रीरामश् बैनर को लेकर उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 153 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। स्थानीय चुनाव में जीत के बाद जश्न के तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने नगर पालिका के दफ्तर पर यह बैनर लगाया था।

Jai Shri Ram written on the municipal office, then police lodged an FIR

Thiruvananthapuram. In Kerala, BJP workers found it expensive to place a banner with the name Shree Sri Ramash on the municipality’s office. The police have registered a case under Section 153 of the IPC against the Shajya Shri Ramash banner on behalf of BJP workers at Palakkad Municipality office in Kerala. As a celebration after the victory in the local elections, BJP workers put up this banner at the municipality’s office.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, पुलिस ने पलक्कड़ नगर निगम के सचिव की शिकायत के आधार पर एक प्राथमिकी दर्ज की है। शिकायत में कहा गया है कि भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने का प्रयास किया गया।

दरअसल, बुधवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने पलक्कड़ नगर निगम के दफ्तर पर जीत का जश्न मनाया और दफ्तर पर एक ओर छत्रपति शिवाजी की तस्वीर वाला बैनर लहराया, दूसरी ओर पीएम मोदी और अमित शाह की। इनमें से छत्रपति शिवाजी की तस्वीर वाले बैनर पर मलयालम में श्जय श्रीरामश् लिखा हुआ था।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पलक्कड़ नगरपालिका कार्यालय में पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के पोस्टर लगाने और स्थानीय चुनाव में जीत के बाद पार्टी का नारा लगाने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं के एक समूह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से भड़काऊ बयान देना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

जिला पुलिस प्रमुख सुजीथदास एस ने कहा कि विशेष शाखा के उप अधीक्षक को घटना के संबंध में रिपोर्ट दर्ज करने के लिए कहा गया है। बता दें कि भाजपा ने 52 में से 28 नगर निगम की सीटों पर जीत हासिल की है।

 

Related posts

One Thought to “नगर निगम के दफ्तर पर लिखा जय श्री राम, तो पुलिस ने दर्ज की एफआईआर”

  1. Rajesh Bhatiya

    अनूठे कदम – सराहनीय प्रयास

Leave a Comment