फरीदाबाद के ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को हिदायत, वाहन चालकों को सर और मैडम कहकर संबोंधित करें

फरीदाबाद। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा पुलिस उपायुक्त यातायात सुरेश हुड्डा, व सहायक पुलिस आयुक्त यातायात जयपाल सिंह, एसएचओ ट्रैफिक और सभी जोनल अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि यातायात पुलिस को वाहन चालकों के साथ व्यवहार में नम्र तथा कार्यवाही में सख्त होना चाहिए। वाहन चालकों को सर और मैडम कहकर संबोंधित करें। वाहन के कागजात चेक करने के नाम पर अनावश्यक रूप से किसी को परेशान न किया जाए  विवेक से ले काम, इसके साथ ही ड्रिंक एंड ड्राइव करने वाले, जिगजैग ड्राइव करने वाले विदाउट नंबर प्लेट वाहन चलाने वालों पर रखे पैनी नजर, कानून के मुताबिक करें ठोस कार्रवाई।

Instruct traffic policemen of Faridabad, address the drivers by calling them Sir and Madam

Faridabad. Addressing Deputy Commissioner of Police Traffic Suresh Hooda, and Assistant Commissioner of Police Traffic Jaipal Singh, SHO Traffic and all the zonal officers, the Police Commissioner said that the traffic police should be gentle in dealing with drivers and strict in action. Connect the drivers by saying Sir and Madam. Do not disturb anyone unnecessarily in the name of checking the vehicle papers; take a careful look at the work done with discretion, as well as those who drink and drive, without number plates driving the zigzag, according to the law. Concrete action.

वाहनों की चेकिंग के दौरान बेसिक सेफ्टी ड्रिल को ध्यान में रखना चाहिए ताकि कोई शरारती तत्व कोई हानि न पहुंचा सकेद्य वाहन व दस्तावेज चौक करने का कार्य यातायात नियन्त्रण में तैनात सक्षम पुलिसकर्मियों द्वारा ही किया जाना चाहिए।

जिसका चालान किया जाता है, उसको उसके द्वारा की गई उल्लंघना से अवगत करवाया जाना चाहिए और यातायात के नियमों के प्रति जागरूक करना चाहिए। यातायात नियम तोड़ने पर होने वाले आर्थिक और शारीरिक नुकसान से अवगत करवाया जाए।

चैकिंग के दौरान अगर कोई वाहन चालक दुर्व्यवहार करता है, तो उसकी वीडियो रिकॉर्ड करके उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही करें।

हॉस्पिटल, चौक व बाजारों में सड़क के साथ अवैध पार्किंग व रेहड़ी वालों की वजह से यातायात नियन्त्रण में होने वाली असुविधा के कारण उनको सुझाव दें कि वह यातायात बाधित न करें और रेहड़ी को सही जगह लगाएं।

मीटिंग में मौजूद ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने कहा कि शहर में कुछ जगह रोड़ पर पेड़ है और कई जगह रोड़ का निर्माण कार्य चल रहा है, जो ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाने में बाधित करते हैं और एक्सीडेंट का खतरा भी बना रहता है।

जिसपर पुलिस कमिश्नर ने कहा कि इस संबंध में सम्बंधित विभाग को पत्र लिखकर सूचित किया जाएगा और जल्द कार्यवाही करने के लिए कहा जाएगा।

उन्होंने कहा कि ट्रैफिक पुलिस कर्मी जोकि दिन रात ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाने के लिए सड़क पर मेहनत कर रहे हैं, उनके सवास्थ्य का ध्यान रखना और उनके परिवार की परवाह करना मेरा कर्तव्य है।

पुलिस आयुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि यातायात पुलिसकर्मियों की ड्यूटी जोखिम भरी होती है।े प्रदूषण की वजह से इनको अनेक तरह की बीमारियां होने का खतरा बना रहता है। इसलिए इनके फेफड़ों संबंधी चिकित्सा परिक्षण नियमित करवाया जाए, ताकि वे स्वस्थ रहें और ड्यूटी को ठीक से पूर्ण कर सकें।

पुलिस आयुक्त ने सभी यातायात पुलिसकर्मियों के लिए चश्मा, मास्क और जैकेट देने के आदेश दिए। इसके साथ ही उत्तम कर्तव्य पालन के लिए प्रथम श्रेणी के प्रशंसा पत्र देने की घोषणा भी की।

उन्होंने बताया कि फरीदाबाद शहर में 124 ट्रैफिक पॉइंट हैद्य जसके लिए ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाने के लिए एसएचओ, टीआई और 18 जेडओ सहित 202 पुलिसकर्मी तैनात है। इसके अलावा 420 होमगार्ड जवान भी तैनात हैं।

शहर में कुछ ऐसे पॉइंट्स हैं जिनपर ट्रैफिक पुलिसकर्मियों द्वारा काफी मेहनत करनी पड़ती है जैसे की सीकरी, बल्लभगढ़, बाटा फ्लाईओवर, नीलम चौक, प्याली चौक इत्यादिद्य सीकरी पर एनएचएआई द्वारा फ्लाईओवर तैयार किया जा रहा है, जिसके चलते पुरे ट्रैफिक को सर्विस रोड़ पर डाइवर्ट किया जाता हैद्य बल्लभगढ़ में बस स्टैंड नजदीक होने, बाजार और ऑटो स्टैंड के चलते ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ती हैद्य इसलिए वहां पर अतिरिक्त पुलिसकर्मी भी तैनात किए गए हैं।

मीटिंग के दौरान नीलम पुल की समस्या के संबंध में पुलिस कमिश्नर ने आम जनता की समस्या को देखते हुए लोगों को राहत देने के लिए पुलिस कमिश्नर ने डीसीपी ट्रैफिक को दुपहिया वाहनों के लिए नीलम फुल को खोलने के लिए निर्देश दिए है। इससे वाहन चालको को काफी राहत मिलेगी।

पुलिस कमिश्नर ने बाटा पुल पर तैनात उपनिरीक्षक बिजेंद्र, सीकरी पर तैनात जोनल ऑफिसर लालचंद, एनआईटी टीआई अजीत व हार्डवेयर चौक पर तैनात योगेन्द्र को उनके द्वारा ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाने के लिए प्रथम श्रेणी प्रशंसा पत्र भी दिया।

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि सड़क पर घायल व्यक्ति को ट्रैफिक पुलिसकर्मी प्राथमिक उपचार देकर तुरंत नजदीकी हस्पताल पहुंचाएं।

ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को अच्छी ड्यूटी करने के लिए बधाई देते हुए कहा कि उनकी ड्यूटी पुलिस विभाग में सबसे सख्त और जोखिम भरी है इसलिए वह अपनी सुरक्षा का खास ध्यान रखेंद्य इसके साथ ही संगोष्ठी का समापन किया गयाद्य

इस दौरान पुलिस कमिश्नर ने लोगों से अपील की गाड़ी को तेज ना चलाएं समय पर घर से निकले, फोग का समय है फोग लैंप का इस्तेमाल करें, गाड़ी पर रिफ्लेक्टर लगाएं। सड़क पर अपनी व दूसरों की परवाह करें। ट्रैफिक नियमों का सदैव पालन करें।

Related posts

Leave a Comment