इन्स्टीट्यूटशन आफ इंजीनियरस ने जेपी मल्होत्रा को किया सम्मानित

फदाबाद। इन्स्टीट्यूटशन आफ इंजीनियरस द्वारा प्रमुख उद्योग प्रबंधक एवं डीएलएफ इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के प्रधान व इन्स्टीट्यूटशन आफ इंजीनियरस फदाबाद के पूर्व चेयरमैन जेपी मल्होत्रा को इन्स्टीट्यूटशन की 11वीं वार्षिक आम सभा में विशेष रुप से सम्मानित किया गया है।

Institution of Engineers honored JP Malhotra

संगठन की जूम प्लेटफार्म पर आयोजित एजीएम में  संदीप हांडा चेयरमैन इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स ने अपने संबोधन में मल्होत्रा द्वारा इन्स्टीट्यूटशन आफ इंजीनियरस के लिए किए गए कार्यों की जहां मुक्त कंठ से सराहना की, वहीं वर्तमान कोरोना महामा के समय में उनकी सक्रिय भूमिका व सभी वर्गों के हित में सक्रिय रहने को अन्य लोगों के लिए भी अनुकरणीय बताया।

प्रदीप मल्लाह ने आईटी के क्षेत्र में  मल्होत्रा द्वारा किए गए कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि डीएलएफ इंडस्ट्रियल एसोसिएशन तथा संगठन के मंच से मल्होत्रा ने सदैव आगे बढ़कर काम किया, जो कि उनके लिए प्रेरणा का स्त्रोत है।

मल्होत्रा ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि डीएलएफ इंडस्ट्रियल एसोसिएशन, फदाबाद मैनेजमेंट एसोसिएशन, आई एम ई, रोट, एचपीसी, इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स के मंचों से सभी वर्गों को आत्मनिर्भर भारत की और प्रभावी कदम बढ़ाने होंगे।

टैप डीसी में उपलब्ध अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं का जिक्र करते हुए मल्होत्रा ने कहा कि वर्तमान परिवेश में टैप डीसी को जिस प्रकार तैयार किया गया है, उसका उद्देश्य नई तकनीक व परिवेश के अनुरूप जागरूकता का समावेश करना तथा सभी वर्गों को प्रशिक्षित करने की दिशा में प्रभावी कदम उठाना है।

मल्होत्रा ने टैप डीसी कॉन्फ्रेंस में इंफ्रास्ट्रक्चर का जिक्र करते हुए कहा कि जेसी बोस यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉक्टर दिनेश कुमार द्वारा आईईआई के तत्कालीन चेयरमैन  सुभाष चंद्र की उपस्थिति में जब इस कॉन्फ्रेंस हॉल का उद्घाटन किया गया था, उस समय सभी सुविधाओं के लिए रूपरेखा तैयार की गई थी, जिसके बल पर टैप डीसी एक अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं सहित प्रशिक्षण परिसर के रूप में अपनी पहचान बनाने में सफल हुआ है

इस अवसर पर सर्व जेपी सिंह, केके नरूला, सुशील बजाज, प्रदीप मल्लाह, पंकज कुमार, डीके दीवान, आईएस चौहान, अमरदीप ओबरॉय, ए के गुप्ता, प्रदीप डिम, लोकेश कुमार, मन्नू बिन्दरा, राजेंद्र कुमार सहित कई लोगों की उपस्थिति विशेष रूप से उल्लेखनीय रही।

Related posts

Leave a Comment