हरियाणाः खेतों में फिर दिखा तेंदुआ

जींद। गांव रधाना खेतों में बीती रात खेतों में तेंदुआ दिखाई देने से रधाना व आसपास के ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। तेंदुए के दिखाई देने की सूचना मिलते ही वन्य प्राणी विभाग तथा फारेस्ट विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई। टीम ने वहां से फूट प्रिंट जुटाए और व्यापक स्तर पर सर्च अभियान भी चलाया लेकिन तेंदुए का कोई सुराग नहीं लगा।

Haryana: Leopard seen again in fields

Jind. Last night in the village Radhana fields, a leopard appeared in the fields, stirring up Radhana and nearby villagers. The team of Wildlife Department and Forest Department reached the spot as soon as the leopard appeared. The team collected foot prints from there and also conducted a massive search campaign but there was no clue of the leopard.

वन्य प्राणी विभाग तथा फोरेस्ट विभाग के अधिकारियों ने लोगों से यह भी जानने की कोशिश की कहीं आस-पास के इलाके में कोई मृत पशु मिला हो।

वन्य प्राणी विभाग तथा फोरेस्ट विभाग की टीम लगातार इलाके पर नजर बनाए हुए है।

एक महीने में यह दूसरा मामला है जब तेंदुआ जिले में दिखाई दिया है। ।

गांव रधाना निवासी रमेश गांव शामलो की तरफ पड़ने वाले खेतों में बीती रात खेत में पानी देने गया हुआ था। देर रात को वह खेत में बने कोठे के बाहर बैठा हुआ था। उसी दौरान उसका ध्यान कुछ दूरी पर सामने खड़े कुत्ते से बड़े कद काठी वाले जानवर की तरफ गया।

जब उसने बैटरी की रोशनी जानवर पर डाली तो वह जंगली जानवर था। जानवर की शक्ल, शरीर पर काले धब्बे, लम्बी लटकती पूंछ के बारे में बताया तो वह तेंदुआ था। जो बैटरी की रोशनी पड़ने के साथ आगे बढ़ गया।

इसके बाद रमेश डर गया और उसने फोन पर सूचना परिजनों तथा ग्रामीणों को दी।

सरपंच ने अधिकारियों को तेंदुए के बारे में अवगत करवाया।

वन्य प्राणी विभाग के निरीक्षक मनबीर सिंह ने बताया कि मौके से फुट प्रिंट लिए गए हैं। जो कुत्ता व जंगली बिल्ली के फुट प्रिंटों से बड़े हैं।

आस-पास के इलाके में कोई शिकार हुआ पशु व अन्य जानवर भी नहीं पाया गया है। फिर भी लगातार इलाके पर नजर रखी जा रही है।

 

Related posts

Leave a Comment