हरियाणाः 2 लैब संचालक गिरफ्तार, देते थे कोरोना की मनचाही रिपोर्ट

गुरुग्राम। यहां सीएम फ्लाइंग ने एक ऐसी लैब का खुलासा किया है जिसमें लोगों को अपनी मनचाही कोरोना रिपोर्ट मिलती थी। लैब का नाम मेडीकार्टज रखा गया था और यहां पर दो संचालकों को भी सीएम फ्लाइंग ने गिरफ्तार किया है। लैब में कई जांच रिपोर्ट भी मिली है।

Haryana: 2 lab operators arrested, giving Corona’s desired report

Gurugram. Here CM Flying has revealed a lab in which people used to get their desired corona report. The lab was named Medikartz and two operators have also been arrested by CM Flying. Several investigative reports have also been found in the lab.

जानकारी के मुताबिक गुरुग्राम के सैनी खेड़ा गांव में मेडीकार्टज नाम से लैब चलाई जा रही थी।

इसके संचालक सेक्टर 30 निवासी अनिरबन राय और परिमन राय के रूप में की गई।

दोनों मूल रूप से पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं।

इस लैब में लोगों से 1200 रुपये लेकर कोरोना की मनचाही रिपोर्ट तैयार की जाती थी।

यही नहीं अलग-अलग लैब की फर्जी रिपोर्ट तैयार करके एक से दो घंटे में लोगों को दे देते थे।

प्रारंभिक छानबीन के मुताबिक सात लोगों की रिपोर्ट तैयार करने की जानकारी सामने आ चुकी है।

इनमें से दो लोग ऐसे हैं, जो लैब से कोरोना निगेटिव की रिपोर्ट तैयार कराकर विदेश जा चुके हैं।

शनिवार दोपहर सीएम फ्लाइंग स्क्वायड को सूचना मिली थी कि सैनी खेड़ा गांव में संचालित एक लैब में मनचाही रिपोर्ट तैयार की जाती है।

इसके बाद एक कर्मचारी को लैब में भेजा गया।

उसने ब्लड सैंपल देने के बाद कहा कि एक घंटे में रिपोर्ट चाहिए।

एक घंटे में कर्मचारी को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दे दी गई।

इस पर कर्मचारी ने कहा कि उसे तो पाजिटिव रिपोर्ट चाहिए। फिर संचालक ने कहा कि इसके लिए आधा घंटा रुकना होगा।

आधे घंटे के बाद पाजिटिव रिपोर्ट बनाकर दे दी गई।

इसके बाद सीएम फ्लाइंग स्क्वायड की टीम ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ लैब में छापेमारी की।

जब तक संचालक कुछ समझते तब तक उन्हें दबोच लिया गया।

Related posts

Leave a Comment