सरकार सामाजिक कार्यकर्ताओं को भयभीत कर रहीः विजय प्रताप सिंह

 

फरीदाबाद। बड़खल से कांग्रेस प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह ने कहा कि बाबा रामकेवल तानाशाही व कू्रर सरकार की दमनकारी नीतियों के खिलाफ आंदोलन जारी रखे हुए हैं, लेकिन सरकार की मानसिकता साफ तौर पर देखी जा सकती है। उन्होंने कहा कि इस सरकार में किसी की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। पत्रकारों, समाजसेवियों और आरटीआई कार्यकर्ताओं को बेवजह डराने और धमकाने की कोशिश की जा रही है और आए दिन उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

Government is intimidating social workers: Vijay Pratap Singh

विजय प्रताप सिंह ने 30 जून को बाबा रामकेवल के सत्याग्रह आंदोलन को समर्थन दिया।

बाबा को अन्न त्यागे हुए 10 दिन हो गए हैं।

बाबा को पूर्व विधायक ललित नागर, मोहन तिवारी, अनीशपाल, सतीश चोपड़ा, सुदेश, राजेश शर्मा, यशवंत पंवार, हरीदत्त शर्मा, अमन परमीता चौधरी आदि ने भी समर्थन व्यक्त किया है।

कांग्रेसी नेता ललित नागर और विजय प्रताप सिंह ने कहा कि इस सरकार में पेट्रोल और डीजल के मूल्यों में आए दिन बढ़ोतरी हो रही है, लेकिन सरकार इस पर कोई ध्यान नहीं दे रही है।

उन्होंने कहा कि बाबा हमेशा सत्य की लड़ाई लड़ते हैं। उन्हें पूर्ण विश्वास है कि यह लड़ाई भी बाबा जीतकर ही उठेंगे।

समाज के प्रबुद्ध वर्गों से अपील करते हुए कहा कि सभी मिलकर यह लड़ाई लड़ें और धरनास्थल पर आकर पूर्ण समर्थन व्यक्त करें। डर में जीने से अच्छा है कि सब मिलकर संघर्ष करें।

 

Related posts

Leave a Comment