मोराटोरियम जैसी सुविधाओं पर तुरंत विचार करे सरकार व आरबीआई: चावला

फरीदाबाद। आईएमएसएमई ऑफ इंडिया के चेयरमैन राजीव चावला ने उद्योग प्रबंधकों व समाज के सभी वर्गों से आह्वान किया है कि वे कोरोना की गंभीरता को समझें और जहां तक संभव हो अपने घरों में बने रहें। चावला के अनुसार केंद्र सरकार व आरबीआई को चाहिए कि वह मोराटोरियम जैसी सुविधाओं पर तुरंत विचार करे।

Government and RBI should immediately consider facilities like moratorium: Chawla

चावला स्वयं फरीदाबाद में कार्यरत कोरोना सेवा केंद्र के संचालन से जुड़े हुए हैं। उनके अनुसार हालात वास्तव में काफी गंभीर है और स्वस्थ सुविधाओं को लेकर भी विभिन्न कारणों से काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

चावला के अनुसार वर्तमान में आवश्यकता इस बात की है कि सोशल डिस्टेंस तथा कोरोना मानकों की पालना अवश्य करें, ताकि इस वायरस व इसके दुष्प्रभावों से बचाया जा सके।

सरकार द्वारा घोषित लाक डाउन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए  चावला ने कहा है कि हांलांकि उद्योगों को अनुमति के साथ कार्य करने की आज्ञा है, परंतु जिस प्रकार बड़े उद्योग ने स्वेच्छा से लाकडाउन के सिद्धांत को अपनाया है, आवश्यकता पड़ने पर हमें भी इसी राह पर कदम बढ़ाने चाहिए।

चावला का कहना है कि सरकार को भी चाहिए कि वह उद्योगों की स्थिति को समझें और उद्योगों को वेतन, ईएमआई व अन्य आवश्यक खर्चे के लिए धन उपलब्ध कराए।

आपने केंद्र व राज्य सरकारों सहित समाज के सभी वर्गों से कोरोना अभियान में अपने अपने स्तर पर योगदान देने का भी आह्वान किया है।

चावला ने फेसबुक व अन्य सोशल मीडिया पर कोरोना की भयवता के चलते मिल रहे शोक संदेशों पर चिंता व्यक्त करते कहा है कि आवश्यकता इस बात की है कि हम स्वयं भी बचें और दूसरो को बचाने के लिए कार्य करें।

Related posts

Leave a Comment