पूर्व उद्योग मंत्री गोयल ने श्रीमद भागवत कथा का श्रवण किया

सोनीपत। तहसील गन्नोर में परम पूजनीय साध्वी चित्रलेखा जी के मुखार्विन्द् से श्रीः मद भागवत कथा का पाठ किया जा रहा है, जिसमें सैकड़ों श्रद्धालु प्रतिदिन प्रभु भक्ति का आनंद ले रहे है। आज विपुल गोयल ने श्रीमद भागवत् कथा में पहुंचकर प्रभु चरणों का आशीर्वाद लिया और भक्तजनों को सम्बोधित करते हुए बताया कि यह उनकी जिंदगी का सोभाग्यशाली दिन है।

Former Industries Minister Goyal listens to Shrimad Bhagwat Katha

गोयल ने कहा कि भारत देश संपूर्ण विश्व में संतों की भूमि कहलाता है, बड़े-बड़े संत-महात्मा और प्रभु अवतार भारत भूमि पर ही हुए हैं। संत हमारे भारत देश का गौरव हैं और जब-जब देश पर विपदा आयी है, तब तब साधु-संतों ने देश को हर विपदा से निकाला है और जनमानस्  की रक्षा के लिए स्वय् तप करके और प्रभु भक्ति, हवन के माध्यम से ऐसे रक्षा की है, जैसे दीपक मैं बाती खुद जलती है और चारों और प्रकाश फैलाकर अंधेरे को दूर करने का काम करती है।

गोयल ने कहा कि संत हमें जो ज्ञान देते हैं, वो हमारे संस्कारों में तो शामिल होते ही हैं और जो आशिर्वाद हमें प्राप्त होता है, वो प्रभु रूप मंे संत ही देते हैं, जो हमें नेकी पर चलने का रास्ता दिखाते हैं और जीवन सफल बनाते हैं।

गोयल ने क्षेत्र और प्रदेश के सभी लोगों की खुशहाली और आपसी भाईचारा बना रहने की कामना की और कहा कि आज जिस दौर से देश कोरोना जैसी महामारी मे गुजर रहा है, ऐसे हालात मे इस लड़ाई मे सभी को मिलकर सहयोग करना है और सरकार द्वारा बताए गए सभी हिदायतों का पालन करना है, ताकि हम इस संघर्ष मे विजय प्राप्त कर इस दौर से निकलने मंे कामयाब हों।

गोयल ने कहा कि आज लगभग 1 वर्ष बीत जाने के बाद भी ना जाने कितने देश ऐसे हैं, जहां पर इस महामारी के विरुद्ध लड़ने के लिए दवा भी नहीं बन पायी है। ऐसे में हमारे देश का परम सौभाग्य है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हमारे कुशल वैज्ञानिकों ने दवा कि सफल खोज की और आज जगह-जगह कैंप लगाकर कोरोना के विरुद्ध निशुल्क वैक्सीनेशन किया जा रहा है परंतु फिर भी सावधानी सबसे जरूरी है।

गोयल ने सभी को सावधानीपूर्वक रहने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने घरों में भी एहतियात बरतने तथा सभी लोगों को वैक्सीन जरूर लगवाने की अपील की और अन्य लोगो को भी जागरूक करने के लिए कहा ताकि वैक्सीनेशन का कार्यक्रम सफल हो सके और इस बीमारी के खिलाफ लड़ने में सफल हो सके।

इस मौके पर मिथिलेश त्यागी, संजय त्यागी, शिवराज त्यागी, सत्य प्रकाश शर्मा, अभिषेक अग्रवाल, सुरेश त्यागी, राहुल त्यागी, अजय तयागी, टीका राम शर्मा,  टीकाराम शर्मा, बेज लता आदि सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Related posts

Leave a Comment