फरीदाबादः चौकी-थाने में लोगों को अनावश्यक न बिठाने के आदेश

फरीदाबाद। पुलिस उपायुक्त डॉ. अर्पित जैन ने कहा कि किसी मामले में शिकायतकर्ता को थाने या चौकी में ज्यादा देर तक ना बैठाएं। अगर जांच अधिकारी ने उसे समय दिया है तो उससे तुरंत मिले और वापस भेजे।

Faridabad: Orders not to make people redundant at police stations

Faridabad. Deputy Commissioner of Police Dr. Arpit Jain said that in any case the complainant should not sit in the police station or post for long. If the investigating officer has given him time, meet him immediately and send him back.

पुलिस उपायुक्त डॉ. अर्पित जैन ने यह आदेश सभी एसीपी, थाना व चौकी प्रभारियों को यह निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि पुलिस का फर्ज नागरिकों की हर संभव सहायता करना है, ताकि उनके सुरक्षा की भावना जगे। कई बार लोग शिकायत देने से इसलिए भी कतराने लगते हैं, क्योंकि व थाने-चौकी में लगने वाले समय से घबरा जाते हैं। कुछ लोग दिहाड़ी पर काम करने वाले भी होते हैं। अगर उन्हें ज्यादा देर तक थाने या चौकी में बैठा लिया जाए तो उनकी दिहाड़ी खराब हो जाती है।

पुलिस उपायुक्त ने इस दौरान सभी एसीपी, थाना व चौकी प्रभारियों को सीसीटीवी कैमरों को नियमित जांच के भी आदेश दिए।

उन्होंने कहा कि अपने-अपने क्षेत्र में अधिक से अधिक कैमरे लगवाएं। उनकी नियमित जांच हो और सभी कैमरे चालू हालत में रहें। सीसीटीवी कैमरे अपराधियों को पकड़वाने में काफी अहम साबित होते हैं। पुलिस अधिकारियों का समाज में सकारात्मक प्रभाव बना रहे, इसके लिए जरूरी है कि समाज के प्रमुख लोग के साथ संपर्क बनाकर रखें।

पुलिस अधिकारी पेट्रोल पंप मालिकों, दुकानदारों, सामाजिक संस्थाओं के प्रधानों व सरपंचों के साथ लगातार बैठक करते रहें। उन्हें जागरूक करें, उनसे संपर्क बनाएं।

उन्होंने सभी को अपने-अपने क्षेत्र में आपराधिक प्रवृत्ति के लोग की सूची बनाकर रखने के लिए भी कहा। जुआ व नशे के कारोबारियों पर रोक लगाने के लिए भी उन्होंने सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए।

Related posts

Leave a Comment