फरीदाबादः वाहनों की फर्जी एनओसी देने वाले 2 गिरफ्तार

फरीदाबाद। पलवल में वाहनों की खरीद के लिए लोन देने वाली कंपनी में करीब 70 लाख रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया। 3 अन्य आरोपितों को पुलिस तलाश रही है। इकोनॉमिक सेल इंचार्ज इंस्पेक्टर सत्यनारायण ने बताया पकड़े गए आरोपितों से 40 हजार रुपये भी बरामद किए गए हैं।

Faridabad: 2 arrested for giving fake NOC of vehicles

Faridabad. In Palwal, two people were arrested and sent to jail for 14 days of judicial custody on charges of cheating about Rs 70 lakhs in a loan company. Police is searching for 3 other accused. Economic Cell In-Charge Inspector Satyanarayana said that 40 thousand rupees have also been recovered from the arrested accused.

इंस्पेक्टर सत्यनारायण ने बताया कि 2019 में चोलामंडल कंपनी की तरफ से शिकायत दी गई थी कि कंपनी की पलवल शाखा में 20 कर्मचारी हैं। इनमें से 9 कर्मचारियों ने ग्राहक से लोन की किस्त लेकर कंपनी में जमा नहीं करवाई। ग्राहक को कंपनी की तरफ से फर्जी एनओसी जारी कर दी गई। इस तरह कंपनी से 69 लाख 38 हजार 942 रुपये की धोखाधड़ी की गई।

धोखाधड़ी के आरोप में समीर निवासी डीजी खान स्कूल पलवल, गेलचंद निवासी अलावलपुर, मैनपाल निवासी रायपुर, सत्यपाल निवासी रहराना व मिंटू आदि शामिल हैं।

पुलिस की इकोनॉमिक सेल ने इस मामले की जांच करते हुए पांचों आरोपितों पर शक जाहिर किया। उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया तो वे फरार हो गए।

पुलिस ने दबिश दी तो 2 आरोपियों ने अग्रिम जमानत के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया। वहां से अग्रिम बेल नहीं मिली तो गेलचंद और सत्यपाल ने अदालत में सरेंडर कर दिया।

अदालत से दो दिन के रिमांड के दौरान आरोपियों से पुलिस ने धोखाधड़ी के 40 हजार रुपये भी बरामद किए।

इंस्पेक्टर सत्यनारायण का कहना है कि मिंटू, समीर और मैनपाल अभी तक फरार हैं। उनको अरेस्ट करने के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

Related posts

Leave a Comment