• हरियाणा: 3 आईएएस अधिकारियों के तबादले हुएRead More
  • विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदकRead More
  • ताजा खबरों के लिए पेज लाइक करेंRead More
  • एक और महिला से दुष्कर्म क्राउन इंटीरियर मॉल में Read More
  • खाना बनाने से इनकार करने पर पड़ोसी ने महिला को चाकू माराRead More

चप्पल-चोर-पाकिस्तान: अमेरिकी डॉलर खाने वाला पाकिस्तान अब अमेरिकी जूते खाए 

नई दिल्ली। चप्पल-चोर-पाकिस्तान: अमेरिकी डॉलर खाने वाला पाकिस्तान अब अमेरिकी जूते खाए – अमेरिकी भारतीयों और बलोचों ने ‘चप्पल चोर पाकिस्तान’ के खिलाफ वाशिंगटन में अमेरिका के वाशिंगटन स्थित पाकिस्तान दूतावास के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया है। #ChappalChorPakistan

चप्पल-चोर-पाकिस्तान: अमेरिकी डॉलर खाने वाला पाकिस्तान अब अमेरिकी जूते खाए

एएनआई ट्वीट के मुताबिक़ प्रदर्शनकारी पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से मिलने गई मां और पत्नी के जूते पाकिस्तान सरकार द्वारा वापस नहीं किए जाने पर काफी गुस्से में थे। प्रदर्शनकारियों ने कई विकलांग भी थे।

हिंदुस्तान से जूते खा

प्रदर्शनकारी चप्पल चोर पाकिस्तान, पाकिस्तान इज तालिबान, पाकिस्तान का मतलब का क्या, अमेरिका से डॉलर ला, हिंदुस्तान से जूते खा आदि नारे लगा रहे थे।
प्रदर्शनकारियों ने बताया कि उनकी नाराजगी पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा जाधव की मां और पत्नी से किए गए दुर्व्यवहार के कारण है।

जूते चुरा लिए और वापस नहीं किए

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वह जाधव की मां और पत्नी के प्रति समर्थन व्यक्त करने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। पाकिस्तानी अधिकारियों ने जाधव परिवार के जूते चुरा लिए और वापस नहीं किए।
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने हमेशा अमेरिकी डॉलर खाए हैं। अब हम उन्हें अमेरिकी जूते भी भेज रहे हैं। अब वे अमेरिकी जूते खाएं।
पाकिस्तान के नेताओं और हुक्मरानों ने अपनी जेल में कैद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ जो भद्दा सलूक किया है। उससे देश में ही नहीं विदेश में भी भारतीय उद्वेलित है।

पाकिस्तान की यही है सद्भावना

पाकिस्तान ने दिखा दिया है कि उसकी जहनियत कैसी है। सद्भावना के नाम पर इस मुलाकात में पाकिस्तानी हुक्मरानों ने जाधव की मां और पत्नी के साथ जो सुलूक किया।

दो देशों के एयरपोर्ट की सुरक्षा से बेहतर है पाक सुरक्षा?

इसके बारे में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद को बताया है कि जब दोनों भारतीय महिलाएं वाया दुबई इस्लामाबाद पहुंची। और उन्हें दो देशों के एयरपोर्ट की जांच से गुजरना पड़ा। तब वहां की सुरक्षा जांच और मेटल डिटेक्टर से ऐसी कोई बात क्यों साबित नहीं हुई। तो अब पाकिस्तान के अधिकारी इन जूतों को लेकर क्या मुद्दा बनाना चाहते हैं। अगर पाकिस्तानी अधिकारियों को जूतों में कोई सबूत मिला था। तो उसी वक्त मीडिया को दिखाया जाना चाहिए था।

जूते में बम

सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर तंज करते हुए कहा कि भगवान का शुक्र है कि उन लोगों (पाकिस्तानियों) ने यह नहीं कहा कि कुलभूषण यादव की पत्नी के जूते में बम था।

130 करोड़ भारतीयों का अपमान

लोकसभा में पक्ष और विपक्ष एकजुट दिखा। सदस्यों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। तो विपक्ष की ओर से गुलाम नबी आजाद ने इसे 130 करोड़ भारतीयों का अपमान बताया।

इंटरकॉम बंद कर दिया

सुषमा स्वराज ने बताया कि जाधव को अपनी मां और पत्नी से मराठी भाषा में बात नहीं करने दी गई। जो उनकी मातृभाषा है। जैसे ही मां ने कुलभूषण से मराठी में बात करना शुरू किया। तो इंटरकॉम बंद कर दिया गया। कुलभूषण जाधव और मां व पत्नी के बीच कांच की दीवार थी। न वे गले मिल सके। न ही आमने-सामने की बात हुई। बातचीत के लिए इंटरकॉम फोन को माध्यम बनाया गया।

सुहाग चिन्ह उतरवा दिए

सुषमा स्वराज ने संसद को बताया कि मुलाकात के समय भारतीय राजनयिक को मुलाकाती कक्ष तक दूसरे रास्ते से ले जाया गया। और भारतीय महिलाओं को दूसरे रास्ते से। इसी बीच महिलाओं के सुहाग चिन्ह उतरवा दिए गए। अन्यथा भारतीय राजनयिक उसी समय इस पर एतराज जताता।

हिंदू स्त्रियां सुहाग चिन्हों को कभी नहीं उतारती

सुषमा ने बताया कि भारतीय महिलाओं ने इस पर उसी समय विरोध जताया कि ये उनके सुहाग चिन्ह है और भारतीय हिंदू स्त्रियां इन सुहाग चिन्हों को जीवन में कभी नहीं उतारती हैं।

जलील होना पड़ा

इस पर महिला अफसरों ने कहा की वे केवल आदेश का पालन कर रही हैं। उनसे उनकी साड़ी भी उतरवा ली गई। उन्हें पहनने के लिए सलवार सूट दिए गए। इस तरह उन्हें पाकिस्तानी अफसरों के सामने ही इस तरह जलील होना पड़ा।

मां की सूनी मांग देखी तो कुलभूषण जाधव…

संसद भवन में लोकसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बताया कि जब कुलभूषण जाधव ने अपनी मां और पत्नी को देखा। तो हतप्रभ रह गया। न मांग में सिंदूर, न माथे पर बिंदी, न हाथों में चूड़ियां और न पारंपरिक साड़ी ,सलवार सूट के लबादे में लिपटी विधवाओं का रूप देखकर कुलभूषण जाधव की जुबान से जो पहला शब्द निकला, ‘बाबा तो ठीक है न।’

You may also like

जनरल रावत के बयान पर चीन फिर डकराया

जनरल रावत के बयान पर चीन फिर डकराया

नई दिल्ली। जनरल रावत के बयान पर चीन फिर डकराया […]

read more
आतंकियों ने अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास पर रॉकेट अटैक किया

आतंकियों ने अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास पर रॉकेट अटैक किया

काबुल। आतंकियों ने अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास पर रॉकेट अटैक […]

read more
मोदी के साथ इजरायली पीएम योग भी करने को तैयार 

मोदी के साथ इजरायली पीएम योग भी करने को तैयार 

नई दिल्ली। मोदी के साथ इजरायली पीएम योग भी करने को तैयार […]

read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *