• हरियाणा: 3 आईएएस अधिकारियों के तबादले हुएRead More
  • विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र ने किकबॉक्सिंग में जीता पदकRead More
  • ताजा खबरों के लिए पेज लाइक करेंRead More
  • एक और महिला से दुष्कर्म क्राउन इंटीरियर मॉल में Read More
  • खाना बनाने से इनकार करने पर पड़ोसी ने महिला को चाकू माराRead More

पंचायत में दी जुबान: पति ने पत्नी की प्रेमी से शादी करवा दी 

वैशाली। पति ने पत्नी की प्रेमी से शादी करवा दी – एक व्यक्ति के लिए अपनी पत्नी और उसके प्रेमी की शादी करवाना कितना तकलीफ तकलीफदेह हो सकता है। इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। वैशाली के एक युवक ने अपनी पंचायत में दी हुई अपनी जुबान के मुताबिक अपनी पत्नी की उसके प्रेमी से शादी करवा दी।

पति ने पत्नी की प्रेमी से शादी करवा दी

वैशाली के ऊंची गांव में ऊंचडीह गांव में अरुण नाम का युवक रहता है। उसकी 10 साल पहले मधु नाम की युवती से शादी हुई थी।
इस दौरान उसे दो बेटियां भी हुई। अरुण अपनी शादी से खुश था। वह अपने परिवार की गुजर-बसर बहुत अच्छे से कर रहा था।

घर में एक अनजान युवक आता है

एक दिन गांव वालों ने बताया कि उसके पीछे से उसके घर में एक अनजान युवक आता है। गांव वालों की सूचना पाकर एक दिन वह अचानक घर में पहुंचता है। जहां मधु और उसका प्रेमी श्रवण आलिंगनबद्ध थे।
अरुण के लिए यह नजारा सिर पर पहाड़ टूटने जैसा था। कोई और युवक होता। तो आपा खोकर कुछ भी कर सकता था।
किंतु उसने अपने परिवार को बचाए रखने और बेटियों के भविष्य के मद्देनजर ठंडे दिमाग से इस बारे में अपनी पत्नी मधु से बात की।

वह उसके बिना जी नहीं सकती

मधु ने बताया कि श्रवण नाम का यह युवक उसके मायके के पड़ोस में रहता है। वह उससे बेइंतहा मोहब्बत करती है और उसके बिना जी नहीं सकती। वह बाकी की जिंदगी भी अपने अपने प्रेमी श्रवण के साथ ही गुजारना चाहती है।

प्रेमी के साथ रहने के लिए अड़ गई

अरुण ने अपनी पत्नी मधु को लाख समझाया। लेकिन मधु अब और आगे पति-पत्नी के रिश्ते के बजाय अपने प्रेमी के साथ रहने के लिए अड़ गई।
जब यह बात गांव के लोगों को पता चली। तो गांव में पंचायत हुई। लोगों का अनुमान था कि पंचायत के लोग मधु और श्रवण को समझाएंगे। उन पर कोई सामाजिक दबाव डालेंगे।

मधु और श्रवण की शादी करवा दी जाए

मगर पंचायत ऐसा कुछ करती। उससे पहले ही अरुण ने पंचायत में घोषणा की कि मधु को उसने बहुत समझाया है। मधु अपने प्रेमी के साथ ही रहने की जिद कर रही है। ऐसे में वह अपनी पत्नी की भावनाओं का सम्मान करते हुए चाहता है कि मधु और श्रवण की शादी करवा दी जाए।
भरी पंचायत में अरुण की उद्घोषणा के बाद पंचायत के समक्ष कोई निर्णय लेने का विषय शेष नहीं रह गया था।
वादे के मुताबिक अरुण ने गांव के मंदिर में मधु और श्रवण की शादी करवाई। इस मौके पर अश्रुपूरित नेत्रों के साथ अरुण भी मौजूद था। पंचायत और गांव के लोग भी इस अद्भुत नजारे के गवाह बने।

फेरों के बाद कोर्ट मैरिज भी करवाई

इस शादी के बाद भी अरुण ने अपने दायित्व को समाप्त नहीं समझा। भविष्य में मधु के जीवन मैं कोई अस्थिरता न आए। इसलिए उसने मधु और श्रवण की कोर्ट मैरिज भी करवाई। मधु के निवेदन पर अरुण ने अपनी दोनों बेटियां भी मधु को सौंप दी।
फिर अरुण ने दग्धहृदय और सजल नेत्रों से अपनी पत्नी मधु को उसके प्रेमी के साथ विदा किया।

ऐसा भी होता है। 

You may also like

पहले भाभी से शादी, फिर खुद जान दे दी 

पहले भाभी से शादी, फिर खुद जान दे दी 

गया। पहले भाभी से शादी फिर खुद जान दे दी […]

read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *