• धर्मसिंह छोकर बोले अशोक तंवर कांग्रेसियों को बरगलाते हैं… Read More
  • हनीप्रीत ने बुर्का पहनकर हरियाणा पुलिस को चकमा दिया!Read More
  • बाबा रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण हुए मालामाल: टॉप 10 अमीरों में शामिलRead More
  • रेपिस्ट रामरहीम की चेली हनीप्रीत कर सकती है सरेंडर Read More
  • सशस्त्र हमलावरों ने कांग्रेसी नेता को गोलियों से भूना Read More

एसडीएम रीगन के तबादले की मांग 

फरीदाबाद। एसडीएम रीगन के तबादले की मांग – एसडीएम रीगन कुमार के तबादले की मांग को लेकर अनगंपुर गांव के सैकडों ग्रामीण आज केन्द्रीय राज्यमंत्री चौ.कृष्णपाल गुर्जर से मिलने उनके सेक्टर-28 स्थित कार्यालय पहुंचे। केन्द्रीय राज्यमंत्री की अनुपस्थिति में ग्राीमणों ने उनके पुत्र एवं वरिष्ठ महापौर देवेन्द्र चौधरी को अपनी व्यथा सुनाई।

अनगंपुर गांव में चकबंदी मामले और

ग्रामीणों का आरोप था कि गांव की जब तकसीम चल रही थी। तो अधिकारियों ने भू माफियाओं से मिलकर उनसे पैसे लेकर तकसीम के सारे कायदे कानून व नियमों को ताक पर रखकर गैर कानूनी व मनचाहे तरीके से अपनी तकसीम करवाई। तकसीम में बहुत सारी अनियमितताएं व गलतियां थी। जो किसी भी तरीके से सही नहीं की जा सकती है।

तकसीम को कैसिल करने की सिफारिश

ग्रामीणों ने बताया कि इस अनियमितताओं की बाबत संपूर्ण ग्रामवासियों ने लिखित में कमिश्रर गुरूग्राम को दरखास्त दी थी। जिस पर कमिश्रर ने डीआरओ फरीदाबाद का निर्दश दिए कि सारी अनियमतताओं पर जांच कर अपनी रिपोर्ट पेश करें। इस पर डीआरओ पे तहसीलदार व अन्य अधिकारियों से मिलकर ग्रामवासियों द्वारा लगाए गए सभी आरोपो की जांच की गई सभी आरोपों का सही पाया गया और तकसीम को कैसिल करने की सिफारिश की गई।
उन्होंने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके चकबंदी  में अपनी कम जमीन की ज्यादा जमीन ले ली। जो पैसे खाकर लोगों को दी दी गई थी। इसी तरह हुडा की जमीन का भी घोटाला हुआ। जो पहले से एक्वायर थी और उसका लोगों ने मुआवजे भी उठा रखे है। इसके बावजूद इन लोगों ने अधिकारियों से मिलकर उसी जमीन को दोबारा चकबंदी में पैसे देकर ले लिया था।

बड़ा फर्जीवाड़ा

ग्रामीणों ने बताया कि इससे बड़ा फर्जीवाड़ा और कहीं नही हो सकता। ग्रामीणो ने बताया कि 6.9.2017 को कमिश्रर गुरूग्राम ने हम सभी गांव वालों ,आयुक्त फरीदाबाद,डीआरओ, एसडीएम बडखल व अन्य अधिकारियों व जो अधिकारी इस घोटाले में शामिल थे। उन्हें भी बैठक में बुलाया गया।
इस बैठक में हम सभी ग्रामवासियों व डीआरओ ने कमिश्रर गुरूगाम के सामने प्रूव किया कि घोटाला हुआ है। ग्रामीणों ने कहा कि एसडीएम उपरोक्त रिपोर्ट पर गुमराह कर रहा है। जो हमारे क्षेत्र के लिए ठीक नही है। इसलिए इस अधिकारी का जल्दी से जल्दी तबादला कराया जाए।
इस अवसर पर राजकुमार भड़ाना, ऋषिपाल भड़ाना, खिचूराम, श्रीचन्द, राजेन्द्र, ज्ञानेन्द, धीरज, रमेश, धर्मबीर, अजीपाल ठेकेदार व छोटू इत्यादि सैकडों ग्रामीण मौजूद थे।
एसडीएम रीगन कुमार से प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं हो पाया।

You may also like

धर्मसिंह छोकर बोले अशोक तंवर कांग्रेसियों को बरगलाते हैं… 

धर्मसिंह छोकर बोले अशोक तंवर कांग्रेसियों को बरगलाते हैं… 

फरीदाबाद। धर्मसिंह छोकर बोले अशोक तंवर कांग्रेसियों को बरगलाते हैं… पूर्व संसदीय […]

read more
जानवरों के इस्तेमाल बंद करें नेता: देवेंद्र भड़ाना 

जानवरों के इस्तेमाल बंद करें नेता: देवेंद्र भड़ाना 

फरीदाबाद। जानवरों के इस्तेमाल बंद करें नेता: देवेंद्र भड़ाना – पूर्व महापौर […]

read more
संत सूरदास के नाम पर होगा गुडईयर मेट्रो स्टेशन 

संत सूरदास के नाम पर होगा गुडईयर मेट्रो स्टेशन 

फरीदाबाद। संत सूरदास के नाम पर होगा गुडईयर मेट्रो स्टेशन – […]

read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *